हिन्दुस्तानी एकेडेमी में जन सूचना अधिकार का सम्मान

जनसूचना अधिकारी श्री इंद्रजीत विश्वकर्मा, कोषाध्यक्ष, हिन्दुस्तानी एकेडेमी,इलाहाबाद व मुख्य कोषाधिकारी, इलाहाबाद। आवास-स्ट्रेची रोड, सिविल लाइन्स, इलाहाबाद कार्यालय-१२ डी,कमलानेहरू मार्ग, इलाहाबाद
प्रथम अपीलीय अधिकारी श्री प्रदीप कुमार्, सचिव,हिन्दुस्तानी एकेडेमी, इलाहाबाद व अपर जिलाधिकारी(नगर्), इलाहाबाद। आवास-कलेक्ट्रेट, इलाहाबाद कार्यालय-१२डी, कमलानेहरू मार्ग, इलाहाबाद
दूरभाष कार्यालय - (०५३२)- २४०७६२५

Thursday, October 2, 2008

हिन्दुस्तानी त्रैमासिक का ताजा अंक प्रकाशित... तुरन्त मंगाएं

हिन्दुस्तानी त्रैमासिक शोध एवं सृजन पत्रिका का ताजा अंक (अक्टूबर-दिसम्बर२००८) प्रकाशित हो गया है। हिन्दुस्तानी एकेडेमी पर उपलब्ध प्रतियों की संख्या सीमित है। अपनी प्रति डाक से प्राप्त करने के लिए यहाँ से जानें क्या करना है।

इस अंक में शामिल आलेखों का विवरण जानने के लिए नीचे के पृष्ठ-चित्र पर चटका लगाएं।


सम्पादकीय आलेख पढ़ने के लिए नीचे चटका लगाएं





प्रस्तुति: सिद्धार्थ शंकर त्रिपाठी
कोषाध्यक्ष- हिन्दुस्तानी एकेडेमी

8 comments:

  1. जानकारी के लिये बहुत धन्यवाद।

    ReplyDelete
  2. अपनी रूचि के काम नहीं कर पाने का मलाल लिए मैं अपनी गृहस्थी में खुश रहने की कोशिश कर रहा हूँ. पत्रकारिता, लेखन, रंगमंच, पत्रमित्रता, चित्रकारी आदि एक-एक कर शगल बन कर आए और परवान चढ़ने से पहले ही चलते बने. मिडिल-क्लास मानसिकता ने सरकारी नौकरी को ही जीवन का श्रेय-प्रेय मान लिया था. जबसे मिल गई तबसे ही यह शेर हॉन्ट करता है:- जिंदगी में शौक क्या कारे- नुमाया कर गए; बी.ए. किया, नौकर हुए, पेंशन मिली और मर गए. अब फ़िर से कोशिश कर रहा हूँ अपने भीतर से टटोलकर कुछ बाहर लाने की...मित्रों से कुछ सीखने की लालसा है और कुछ बाँटने का उत्साह है…

    बेहद जोशीला (अपने बारे में) में आपने लिखा है। कमाल की सच्चाई है दोस्त अगर में इलाहाबाद में होता तो यकीनन आपके साथ भी मिलकर कुछ शार्ट फिल्में बनाता। आदमी का जज्बा महत्वपूर्ण होता है रास्ते अपने आप बनते जाते है। और हां जावेद अख्तर पर मेरा लेख कोई विवाद नही बल्कि एक सच्ची घटना है।

    ReplyDelete
  3. PRIYA SHRI TRIPATHEE JEE,

    aapka bahut dhanyavad firdaus ke blog par roman se nagree karne ka.mainE hindee blog aur nagree bas shuru hee kee hai.

    vaise NAV BHARAT TIMES VAGAIRAH JAISE HAR BLOG PAR COMMON SUVIDHA NAHEEN HAI tippadiyon ko BOX ME HEE SEEDHE nagree me likhne ka?

    yadi aisa ho to hamare jaise nausikhiyon ka bhala ho.main aapse sampark banaye rakhoonga.

    HINDUSTANEE ACADEMY KA MERA PARICHAY 1963 SE HAI.MAIN KP INTER COLLEGE KE CHATRAVAS ME THA AUR TAB ACADEMY KA DAFTAR VAHEEN MEDICAL COLLEGE SE LAGE CIRCUS GROUND SE SATA THA.KAFEE PUSTAKEN MIL JATEE THEEN HAM SAMAROHON ME SIRKAT KARTE THE.US JAMANE ME JAB PHONE MANEE RAKHTA THA ACADEMY MUMBAYEE SE MERA PHONE AANE PE BULVA BHEE LETEE THEE.EK GHARAUTAN JAISA SAMBANDH.ALLAHABAD AANE PE AAPKE DARSHAN BHEE KAROONGA.PUNAH AAPKA BAHUT DHANYAVAD.

    ReplyDelete
  4. आप लोगों ने यह बहुत उम्दा काम किया है। बधाई स्वीकारें।

    ReplyDelete
  5. जानकारी के लिये धन्यवाद

    ReplyDelete
  6. " first time read your blog, intresting place"

    Regards

    ReplyDelete
  7. दीप मल्लिका दीपावली - आपके परिवारजनों, मित्रों, स्नेहीजनों व शुभ चिंतकों के लिये सुख, समृद्धि, शांति व धन-वैभव दायक हो॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰ इसी कामना के साथ॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰ दीपावली एवं नव वर्ष की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं

    ReplyDelete
  8. आप सब सुखी, स्वस्थ और सानंद हों. दीवाली की शुभकामनाएं.

    ReplyDelete

हिन्दी की सेवा में यहाँ जो भी हम कर रहे हैं उसपर आपकी टिप्पणी हमें आगे बढ़ने की प्रेरणा तो देती ही है, नये रास्ते भी सुझाती है। दिल खोलकर हमारा मार्गदर्शन करें... सादर!

Related Posts with Thumbnails