हिन्दुस्तानी एकेडेमी में जन सूचना अधिकार का सम्मान

जनसूचना अधिकारी श्री इंद्रजीत विश्वकर्मा, कोषाध्यक्ष, हिन्दुस्तानी एकेडेमी,इलाहाबाद व मुख्य कोषाधिकारी, इलाहाबाद। आवास-स्ट्रेची रोड, सिविल लाइन्स, इलाहाबाद कार्यालय-१२ डी,कमलानेहरू मार्ग, इलाहाबाद
प्रथम अपीलीय अधिकारी श्री प्रदीप कुमार्, सचिव,हिन्दुस्तानी एकेडेमी, इलाहाबाद व अपर जिलाधिकारी(नगर्), इलाहाबाद। आवास-कलेक्ट्रेट, इलाहाबाद कार्यालय-१२डी, कमलानेहरू मार्ग, इलाहाबाद
दूरभाष कार्यालय - (०५३२)- २४०७६२५

Monday, March 2, 2009

केदार नाथ अग्रवाल की काव्य सम्पदा पर गोष्ठी

 

 

 scan0002

हिन्दुस्तानी एकेडेमी, इलाहाबाद व साहित्य भण्डार, इलाहाबाद के संयुक्त तत्वावधान में दिनांक ४.०३.२००९, दिन बुधवार, अपराह्न २:०० बजे, हिन्दुस्तानी एकेडेमी सभागार में "केदारनाथ अग्रवाल की काव्य सम्पदा" पर एक विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया है। जिसकी अध्यक्षता वरिष्ठ कथाकार श्री दूधनाथ सिंह करेंगे तथा विचार गोष्ठी में प्रो० राजेन्द्र कुमार, डॉ० मत्स्येन्द्र नाथ शुक्ल तथा वाराणसी से पधारे श्री आशीष त्रिपाठी मुख्य वक्ता होंगे।

image 

जन्म: 01 अप्रैल 1911 निधन: 22 जून 2000

 

जन्म स्थान

ग्राम कामासिन, जिला बाँदा, उत्तर प्रदेश


केदारनाथ अग्रवाल प्रगतिशील काव्य-धारा के एक प्रमुख कवि थे। उनका पहला काव्य-संग्रह युग की गंगा आज़ादी के पहले मार्च, 1947 में प्रकाशित हुआ। हिंदी साहित्य के इतिहास को समझने के लिए यह

संग्रह एक बहुमूल्य दस्तावेज़ है। केदारनाथ अग्रवाल ने मार्क्सवादी दर्शन को जीवन का आधार मानकर जनसाधारण के जीवन की गहरी व व्यापक संवेदना को अपनी कविताओं में मुखरित किया है। कवि केदार की जनवादी लेखनी पूर्णरूपेण भारत की सोंधी मिट्टी की देन है। इसीलिए इनकी कविताओं में भारत की धरती की सुगंध और आस्था का स्वर मिलता है।

केदारनाथ अग्रवाल की कविताओं का अनुवाद रूसी, जर्मन, चेक और अंग्रेज़ी में हुआ है। उनका कविता-संग्रह 'फूल नहीं, रंग बोलते हैं', सोवियतलैंड नेहरू पुरस्कार से सम्मानित हो चुका है :

केदारनाथ अग्रवाल के प्रमुख कविता संग्रह है : (1) युग की गंगा, (2) फूल नहीं, रंग बोलते हैं, (3) गुलमेंहदी, (4) हे मेरी तुम!, (5) बोलेबोल अबोल, (6) जमुन जल तुम, (7) कहें केदार खरी खरी, (8) मार प्यार की थापें आदि।


4 comments:

  1. कार्यक्रम की सफलता हेतु शुभकामनाएँ।

    ReplyDelete
  2. इस जानकारी के लिये धन्यवाद, ओर सफ़लता के लिये शुभकामनाऎ

    ReplyDelete
  3. सुन्‍दर कार्य कर रहे हैं आप लोग। हार्दिक बधाई।

    ReplyDelete
  4. इस जानकारी के लिये धन्यवाद,
    होली की ढेर सारी शुभकामनायें....

    ReplyDelete

हिन्दी की सेवा में यहाँ जो भी हम कर रहे हैं उसपर आपकी टिप्पणी हमें आगे बढ़ने की प्रेरणा तो देती ही है, नये रास्ते भी सुझाती है। दिल खोलकर हमारा मार्गदर्शन करें... सादर!

Related Posts with Thumbnails